स्पीच थैरेपी मे क्या-क्या सिखाते है।
१.हकलाने वाले को धीरे-धीरे बोलना/बातचित करना सिखाया जाता है।
२.हकलाने वालों को मानसिक तौर पर तैयार किया जाता है। क्योंकि हकलाने का कारण आत्मविश्‍वास की कमी ही होता है।
३. हकलाने वालों के विचारों को बदलने के लिये अवचेतन मन का सहारा लिया जाता है ।
४.अधिकाधिक लोगों के सामने बोलने/भाषण देने के लिये और दूसरों से संबंध रखने/दुसरों से खुलकर बात करने प्रोत्साहित किया जाता है।
५.हकलाने वालों को पुरा समय उसकी हकलाहट को दुर करने दिया जाता है। हमेशा मोटिवेट किया जाता है।
६. हकलाहट शारीरिक नहीं बल्कि मानसिक विकार है।
७.ग्रुप मे बिठाकर सही तरीके से बिना हकलाये बोलने का अभ्यास कराया जाता है।
८.हकलाने वालों की खुद को कमजोर समझने की/ खुद के प्रति हीनभावना कम की जाती है।
९.हकलाने वालों को तनावग्रस्त,किसी बात का डर दुर किया जाता है और खुश रहना सिखाया जाता है।
१०.हकलाने वाले को कहानी, कविता, गीत गाने के लिये प्रोत्साहित किया जाता है।
११. जिस शब्द मे हकलाते है/बोलने मे कठिनाई महसूस होती है उस शब्द/वाक्य को बार-बार बुलवाया जाता है। अभ्यास कराया जाता है। जब हकलाने वाले का आत्मविश्‍वास ना बढे और सही उच्चारण ना आये।
१२.अचानक जवाब देना सिखाया जाता है।
१३.बोलने और सोचने मे तालमेल बनाकर बोलना सिखाया जाता है।
१४.सकारात्मक विचारों, आशावादी विचारों को अपनाना सिखाया जाता है।
१५.सही तरीके से बोलते वक्त श्वास लेना, शब्दों को कैसे कहा जोर देकर/ थोड़ा रुककर बोलना सिखाया जाता है।
१६. सही तरीके से बोलने की आदत/ सराव/ अभ्यास कराया जाता है।
१७. सही तरीके से बोलने के लिये इमेजिंग तकनीक का भी सहारा कैसे ले यह सिखाया जाता है।
१८.हकलाने वालों के लिये क्लुएंसी तकनीक का सहार भी लिया जाता है। इसमें आवाज को मध्यम रखकर बोलना सिखाया जाता है।
१९.हकलाने वालों का हौसला बढाया जाता है। घबराकर हार न मानना और खुद पर भरोसा करना सिखाया जाता है। बातचीत करते वक्त लोगों की परवाह किये बिना बोलना सिखाया जाता है।
२०. हकलाने वालों से योगाभ्यास, प्राणायाम करना, व्यायाम करना सिखाया जाता है
स्पीच थैरेपी ज्यादा दिनों की नहीं होती। १-२ महीने का कोर्स करने से इस आदत से धीरे-धीरे छुटकारा पाया जा सकता है।

                                                       SURAJ STAMMERING CARE CENTRE                                                                     Book Online
                            Near badi maie satna road Maihar Distt satna Madhya  Pradesh
             You can live chat on  Whatsapp No-9300273703,920082458
1-Appointment 2 Location 3- Online Speech therapy 4- Regular therapy 5- Home therapy 6-Basic therapy   7- Hostel