Are you the best?
Why do you remember people?
Make yourself a brand (brand) because the world just remembers the brand and we are like best, every creation of God is the best in itself, it is amazing ..!
-----------------------------------
1) Firstly Accept Unconditional Yourself: -
Do not ever compare yourself with anyone in your life, you are the best, you are, every creation of God is the best in yourself, it is amazing ..!
Just contemplate friends: -
We should not be satisfied with our studies of our children, our own good school, do not study in college, new home and want to eat, not being satisfied with the job, bitterness from our parents, distances from our children and do not know Who is talking about the sadness ......
Think it .......
Just about those schools, colleges are not able to go, those who have no time to eat roti, those who are sleeping on the roads, who do not have a job, whose parents are not or whose children are not and do not know What problems
Believing friends, wherever we are, in which circumstances are very lucky, so first of all we have to accept Unconditional Accept.

--------------------------------------------------------------------------------------------

2) Become a good listener: - What happens to us, we come and hear our story and we do not even know what the other is saying. Hey brother, we know the thing of our mind and we have not heard of the other, then what we learned new, yes the second has taught us something or something from ours.

------------------------------------------------------------------------------------------
3) Become a good Learner: If you ever get a chance to learn or learn something, then learn one thing carefully. Now when you have taken the time to learn or see that thing, then use it completely.

------------------------------------------------------------------------------------------
4) Ask for full use of your money: Most of the time, it is noticed that in schools, colleges, training institutes, we do not even ask the teacher if they do not understand the subject. The reason for not asking for most of the time is the approach "what other people will say" approach. When nothing in Future will happen then the world will definitely say, keep this in mind. After leaving Sharmi Sharma, we should clear our Concept immediately. By not asking, we are putting break on our future, which are very heavy later. You have to understand that your house does not have extra money to spend your time and again. You must charge one pie of the fees given by you because we have all heard that "money do not grow on trees".

--------------------------------------------------------------------------------------------
5) Enhance your network and use it for others: whether it is school, be office, be conferred, befriend - you have to use your network everywhere where it is needed. The important thing is that if you find out from anywhere that somebody needs something then you have to help him in any situation. It comes to seeing that we, despite knowing our lives, withdraw from helping others and then expect our time from the world to help (as we will do in the same way).

--------------------------------------------------------------------------------------------
6) Make your own brand: - Anywhere you go, always get mixed in the same environment. At that time, 100% will not work, 99.99% will not work as such: -
(a) are playing, then give your best in the stand.
(b) If you are studying or doing some training then give your best in it.
(c) If you are in the office then give your best at office work.
(d) Dance party or if you are having fun, then do your best there.
It is clear that whatever you do, you have to give your best (100%), without worrying about the result. Now that you have taken the time out for that thing, then use 100% of it. If you think about anything else at that time then you will not be able to give 100% of your work in that work and consider it to be friends, in whatever work 100% will not be given, that work can never be successful in life.
At all places you have to work on the concept of remembering people .....
In any case, you have to create yourself as a brand, because the world just remembers the brand and this is what we

   

     आप सर्वश्रेष्ठ हैं ?

आपको लोग क्योँ याद रखें ?
बनाइये अपने को एक ब्रांड (Brand) क्योँकि दुनिया सिर्फ और सिर्फ ब्रांड (Brand) को याद रखती है और हम जैसे है सर्वश्रेष्ठ हैं,,, ईश्वर की हर रचना अपने आप में सर्वोत्तम है, अदभुत है..! 
---------------------------------------------------------------------------------
1) सबसे पहले अपने आप को Unconditional Accept (स्वीकार) करें :- 
मित्रों जीवन में कभी किसी से अपनी तुलना मत करो, आप जैसे हैं, सर्वश्रेष्ठ हैं,,, ईश्वर की हर रचना अपने आप में सर्वोत्तम है, अदभुत है..!
मित्रों जरा चिंतन कीजिये :- 
हमारा अपने बच्चों की पढ़ाई से संतुस्ट न होना, हमारा खुद का अच्छे स्कूल,कॉलेज में न पढ़ने की शिकायत, नए नए घर तथा खाने की चाहत, नौकरी से संतुस्ट न होना, अपने माँ बाप से कटुता, अपने बच्चों से दूरियां और न जाने कौन कौन दुखों के बारे में बातें करना …… 
सोचिये सोचिये .......
जरा उनके बारे में जो स्कूल, कॉलेज ही नहीं जा पा रहे है, जिनको एक वक़्त की रोटी नसीब नहीं है, जो सड़कों पर सो रहे हैं, जिनके पास नौकरी नहीं है, जिनके माँ बाप नहीं हैं या जिनके बच्चे नहीं हैं और न जाने क्या क्या समस्याए
मित्रों मान कर चलिए हम जहाँ है, जिन परिस्थितियों में हैं, बहुत खुशनसीब हैं, इसलिए सबसे पहले हमको अपने आप को Unconditional Accept (स्वीकार) करना ही होगा.

--------------------------------------------------------------------------------------
2) अच्छे श्रोता (Listener) बने :- होता क्या है हम अपनी कथा तो सुना कर आ जाते हैं और दूसरा क्या बोल रहा है इसका हमें पता ही नहीं होता. अरे भाई हमें तो अपने मन की बात पता है और हमने दूसरे की बात सुनी ही नहीं तो फिर हमने नया क्या सीखा, हाँ दूसरा जरूर सिख गया हमारी बातों से कुछ न कुछ.

--------------------------------------------------------------------------------------
3) अच्छे शिष्य (Learner) बने :- कभी भी कुछ देखने या सिखने का मौका मिले तो एक एक चीज को ध्यान से सीखिये. अब जब आपने उस चीज को सिखने या देखने के लिए Time निकाल ही लिया है तो उसका पूरा उपयोग कीजिये।

------------------------------------------------------------------------------------
4) अपने पैसे का पूरा उपयोग हक़ से मांगिये :- अधिकतर समय देखने में आता है कि स्कूल, कॉलेज, ट्रेनिंग institutes में हम topic समझ न आने पर भी Teacher से नहीं पूछते. अधिकतर समय न पूछने का कारण "दूसरे सिखने वाले क्या कहेंगे" वाली approach होती है. जब Future में कुछ नहीं बनोगे तब दुनिया जरूर कहेगी,ये बात ध्यान में रखना.शर्मा शर्मी छोड़ कर हमें तुरंत अपने Concept clear करने चाहिए. न पूछ कर हम अपने Future पर Break लगा रहे होते हैं, जो की बाद में बहुत भारी पड़ता हैं. बार बार आपके ऊपर खर्च करने के लिए आपके घर वालों के पास फालतू पैसे नहीं हैं, ये आपको समझना ही होगा. आपको अपने द्वारा दी गई Fees का एक एक पाई वसूलना ही चाहिए क्योँकि "पैसे पेडों पर नहीं उगते", ऐसा हम सबने सुना है.

--------------------------------------------------------------------------------------
5) अपना Network बढ़ाइए और दूसरों के लिए उसका उपयोग कीजिये :- चाहे School College हो, Office हो, रिस्तेदारी हो, दोस्ती हो - आपको अपने Network का use हर उस जगह करना है, जहाँ उसकी जरुरत है. Important बात ये है कि अगर आपको कहीं से भी पता लग जाये की किसी को किसी चीज की आवश्य्कता है तो आपको किसी भी हाल में उसकी मदद करनी है. देखने में ये आता है की हम अपनी जान पहचान होने के बावजूद दूसरे की मदद करने से पीछे हटते है और फिर अपने समय दुनिया से मदद की उम्मीद करते हैं (जैसा बोएंगे वैसा ही कांटेंगे).

------------------------------------------------------------------------------------
6) अपने आपको ब्रांड (Brand) बनाइये :- जिस भी जगह पर जाएं हमेशा उसी माहौल में घुल मिल जायें। उस वक़्त अपना 100% दे, 99.99% से भी काम नहीं चलेगा, जैसे :-
(a) खेल रहे हैं तो खलने में अपना Best दीजिये.
(b) पढ़ रहे हैं या कोई ट्रेनिंग कर रहे हैं तो उसमें अपना Best दीजिये. 
(c) Office में हैं तो Office काम में अपना Best दीजिये.
(d) डांस पार्टी में या मस्ती कर रहे हैं तो वहां अपना Best करिये. 
मतलब साफ़ है जो काम करें उसमें आपको अपना Best (100%) देना है, Result की चिंता किये बिना. अब जब आपने उस चीज के लिए Time निकाल ही लिया है तो उसका 100% सदुपयोग कीजिये. उस समय अगर आप किसी और चीज के बारे में सोचेंगे तो आप अपना 100% उस काम में नहीं दे पाएंगे और मित्रों मान कर चलिए जिस काम में 100% नहीं दिया जायेगा वो काम जिंदगी में कभी सफल नहीं हो सकता.
सभी जगहों पर आपको लोग क्योँ याद रखें concept पर काम करना है.....
आपको किसी भी हाल में अपने को एक ब्रांड(Brand) के रूप में Create करना है क्योँकि दुनिया सिर्फ और सिर्फ ब्रांड (Brand) को याद रखती है, ये बात हम

                                                       SURAJ STAMMERING CARE CENTRE                                                                     Book Online
                            Near badi maie satna road Maihar Distt satna Madhya  Pradesh
             You can live chat on  Whatsapp No-9300273703,920082458
1-Appointment 2 Location 3- Online Speech therapy 4- Regular therapy 5- Home therapy 6-Basic therapy   7- Hostel