Refresh Anti Stammering Psycho Therapy; 
There are many people who have taken Speech Therapy in many cities of India. There is some more rest for a few days, then the same condition comes back later. In our situation, our institution is operating refreshing anti-stammering speech therapy since your belief has broken once from speech therapy. So you will see this center with a doubt. To dispel doubts, the institution will take only the hostel fees from you. The center fees will be deposited after the satisfaction  If a person has done a course from our institution and is not satisfied due to any reason then only he will have to pay the hostel fee. Other fees will not be charged. The specialty of this therapy is that your fear will get rid of it. Speech will not be slowed. Focus on Acceptance. The target will be completed at least.

                  Refresh Anti Stammering Psycho Therapy;-                                           
बहुत सारे लोग ऐसे भी है जो भारत  के कई शहरों में स्पीच थैरेपी ले चुके है। कुछ दिनों तक कुछ और आराम रहता है ,बाद में वही कंडीशन फिर आ जाती है।  एसी सिथती में हमारी संस्था रीफ्रेश एण्टी स्टेमरिग स्पीच थैरेपी संचालित कर रही है चूँकि आपका विश्वास स्पीच थैरेपी से एक बार टूट चूका है। अतः आप इस सेन्टर को भी शक की दृषिट से देखेगे। शंका को मिटाने के लिये संस्था आप से केवल होस्टल फीस लेगी। सेन्टर फीस सन्तुषिट के बाद जमा करवायेगी। यदि कोई व्यवित हमारी संस्था से कोर्स किया है और किसी कारणवशं संतुष्ट नही हुआ है तो उसे मात्र होस्टल फीस ही जमा करनी होगी। बाकि कोई फीस नही लगेगी। इस थैरेपी की विशेषता यह है की इसमें आपका डर निकल जायेगा।  स्पीच धीमी नही की जायेगी।  Acceptance पर फोकस किया जायेगा। कम से अधिक की ओर टारगेट पूरा करवाया जायेगा। 

                                                       SURAJ STAMMERING CARE CENTRE                                                                     Book Online
                            Near badi maie satna road Maihar Distt satna Madhya  Pradesh
             You can live chat on  Whatsapp No-9300273703,920082458
1-Appointment 2 Location 3- Online Speech therapy 4- Regular therapy 5- Home therapy 6-Basic therapy   7- Hostel